Breaking News

सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं से प्रदेशवासियों के जीवन में अद्भुत उत्साह व खुशहाली आई- मुख्यमंत्री मनोहर लाल

चंडीगढ़, 9 नवंबर। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने आज जिला युमनानगर के बिलासपुर में आयोजित जनसंवाद कार्यक्रम में कहा कि हरियाणा पहला ऐसा राज्य है, जहां परिवार पहचान पत्र के माध्यम से लोगों को सरकारी योजनाओं का लाभ सुगमता से मिल रहा है। ऐसी योजना किसी अन्य प्रदेश में नहीं है। व्यक्ति की 60 वर्ष की आयु होते ही उसकी पेंशन स्वत: बन जाती है। इसका लाभ लोगों को सीधा मिल रहा है और उन्हें किसी प्रकार की परेशानी नहीं होती। राज्य सरकार द्वारा गत 9 वर्षों में किए गए सर्वस्पर्शी विकास कार्य तथा जनकल्याणकारी योजनाओं से प्रदेशवासियों के जीवन में अद्भुत उत्साह तथा खुशहाली आई है।

जनसंवाद कार्यक्रम से पहले मुख्यमंत्री ने लोक निर्माण विभाग द्वारा सढ़ौरा विधानसभा क्षेत्र में 2.39 किलोमीटर लम्बी चार नई सड़कों के निर्माण कार्य का तथा भगवानपुर-लोहगढ़ साहिब गुरूद्वारा सड़क से एसजीपीसी गुरूद्वारा तक सड़क व लोहगढ़ नदी पर पुल के निर्माण कार्य का शिलान्यास किया। इस दौरान उन्होंने तीन दिव्यांगजनों को मोटराइज्ड तिपहिया साइकिल भी वितरित की तथा हरियाणा आजीविका मिशन द्वारा लगाये गये स्टॉल का भी अवलोकन किया।

जनसंवाद कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ने सरपंचों, बुजुर्गों, युवाओं, महिलाओं से संवाद करते हुए उनकी समस्याएं एवं विकास रूपी कार्य जानें। उन्होंने कहा कि जो भी शिकायत या मांग पत्र उन्हें सौंपे गये हैं, उनके एक-एक अक्षर को पढ़कर उसका निवारण करने का काम किया जाएगा। जिला स्तर पर जो कार्य होंगे, उसका तीव्रता से समाधान होगा और जो कार्य चंडीगढ़ से सम्बन्धित होंगे, उन पर भी तेजी से कार्य करवाने का काम किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उनका बिलासपुर के साथ काफी गहरा रिश्ता है। वे लम्बे समय तक यहां रहे हैं। यहां के मेलों, सरस्वती नदी व अन्य एतिहासिक स्थानों का नाम लेते ही पुरानी यादें ताजा हो जाती हैं। उन्होंने कहा कि वर्ष 1985-86 में उन्होंने आदिबद्री से पिपली तक पैदल यात्रा की थी। विकास के नाम पर यहां पर कुछ नहीं था। नदी में से निकलते थे तो वहां पर ही रूकना पड़ता था, लेकिन आज यहां पर विकास कार्यों को तीव्रता से करवाने का काम किया गया है। पिछले 9 वर्षों में हमने रिकॉर्ड तोड़ विकास कार्य करवाये हैं। विकास के नाम पर जितना पैसा भेजा जाता है, उतना ही पैसा लगाया गया है। यह जनता का पैसा है और जनता के हित के लिये ही लगना चाहिए। इसी सोच के साथ हमने कार्य किया है।

मुख्यमंत्री ने एक युवक द्वारा गांव कैनवाल से देवधर के रास्ते पर नशे की गतिविधियां होने की शिकायत रखी। इस शिकायत पर मुख्यमंत्री ने तुरंत संज्ञान लेते हुए पुलिस अधीक्षक को वहां पर नकेल कसने के निर्देश दिये और कहा कि जो भी इस गतिविधि में संलिप्त है, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई अमल में लाएं। उन्होंने कहा कि जो भी नशे का व्यापार करता है, उसकी प्रॉपर्टी को अटैच कर आगामी कार्रवाई तुरंत अमल में लाएं। इसके साथ-साथ उन्होंने बिलासपुर से सढ़ौरा रोड़ पर सरस्वती पुल पर जो नाका है, उसे भी वहां से हटवाने के निर्देश दिये। जनसंवाद के दौरान उन्होंने सरपंचों द्वारा गांवों में बारात घर, सामुदायिक भवनों की मांग पर बीडीपीओ को निर्देश दिये कि गांवों का सर्वे करवाकर यदि वहां पर पंचायती जमीन है, उसका प्रस्ताव पास करवाकर इस कार्य को करें ताकि गांववासियों को यह सुविधा भी बिना देरी के मिल सके।

संवाद में व्यक्ति द्वारा इलाके में आवारा पशुओं की समस्या और यहां गौशाला न होने बारे रखी गई शिकायत पर मुख्यमंत्री ने कहा कि जिन गांवों में पंचायती जमीन ज्यादा है, यदि वहां पर 10 एकड़ से ज्यादा पंचायती जमीन है और यदि वह गौशाला के लिये ऑफर करते हैं तो वहां पर गौशाला का निर्माण करवा दिया जाएगा। उन्होंने यह भी बताया कि गौ सेवा आयोग द्वारा इस कार्य के लिये जो भी राशि होगी, वो भी उपलब्ध करवाई जाएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जिन लोगों को जन्मदिन होता है, उसके मोबाईल पर संदेश भेजकर उन्हें शुभकानाएं दी जाती है। आज भी बिलासपुर के 34 लोगों का जन्मदिन है, जिसके लिये वह उन्हें मुबारकबाद देते हैं। उन्होंने मंच पर 2 बच्चों को बुलाकर शुभ संदेश का कार्ड व उपहार देकर उन्हें जन्मदिवस की बधाई दी। मुख्यमंत्री ने यह कहा कि आयुष्मान भारत योजना के तहत बिलासपुर के 234 लोगों ने चिकित्सा सुविधा का लाभ उठाया है और इस कार्य पर 63 लाख 42 हजार रुपये की राशि खर्च हुई है। दो महिला लाभार्थियों ने इसके लिए मुख्यमंत्री का धन्यवाद किया। मुख्यमंत्री ने यह भी बताया कि यहां पर 3584 लोगों का आयुष्मान कार्ड तथा 1150 लोगों को सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना के तहत पेंशन उपलब्ध करवाई जा रही है। जनसंवाद कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ने जिन लोगों की 60 वर्ष की आयु हो गई थी, उनमें से ऐसे कई लोगों को मंच पर बुलाकर उन्हें पेंशन सम्बन्धी प्रमाण पत्र भी वितरित किये।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले दिनों हुई भारी बारिश के चलते जिन लोगों के मकान क्षतिग्रस्त हो गये थे, उस बारे उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों को सर्वे करवाकर डा0 अम्बेडकर नवीनीकरण आवास योजना के तहत लाभ दिलवाने के निर्देश दिये हैं। इस अवसर पर पूर्व विधायक बलवंत सिंह, उपायुक्त कैप्टन मनोज कुमार, पुलिस अधीक्षक गंगा राम पूनिया, अतिरिक्त उपायुक्त आयुष सिन्हा ‌सहित अन्य अधिकारी व गणमान्य लोग मौजूद रहे।

About admin

Check Also

Haryana News

पुलिस महानिदेशक शत्रुजीत कपूर ने पंजाब की सीमा से लगते दाता सिंह-खनौरी बॉर्डर का किया निरीक्षण, लिया स्थिति का जायजा

चंडीगढ़। पुलिस महानिदेशक शत्रुजीत कपूर ने बीते कल किसान संगठनों के दिल्ली कूच के दृष्टिगत …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Recent Comments

No comments to show.